Sunday, June 02, 2013

मत सुनना रैना की बातें कभी

ये रौशनी के झूटे राज़ तुम्हें बताएगी 

चमचमाती चांदनी में भी फिर 

इसकी मैली सी आवाज़ ही सताएगी